एक नशीली सुबह

माथे पर बिंदी सा
पूरब के भाल को
उजास करता सूरज
हर एक सुबह को
मादक बना देता है ।
सच
सुबह और तुम
दोनों में
फर्क कैसे करूँ
प्रकृति जो हो
तुम और सुबह

टिप्पणियाँ

लोकप्रिय पोस्ट